अमर- गीता


अमर गीता एक व्यावहारिक, प्रेरणादायक, आध्यात्मिक , समृद्धता से संबंधित पुस्तक है। अमर गीता, युवाओं(14 - 30 साल की उम्र ) , मध्यम आयु (30-40 वर्ष की आयु ) और 40 + से 80+ , के लिए जीवन मार्गदर्शक है।


Non-fiction All public.
0
2.1k VIEWS
Completed
reading time
AA Share

समृद्धता wealth

समृद्धता wealth


wealth समृद्धता , केंद्र है।


आप पहले से ही समृद्धता का पालन कर रहे हैं।

मैं आपको सिर्फ याद दिला रहा हूं ,आप सही रास्ते पर हैं।


मैं आपको सत्य truth का संदेश देने के लिए आया हूं।

मैं आपको परमात्मा होने का संदेश देने आया हूं।

मैं आपको wealth समृद्धता का संदेश देने आया हूं।


मैं wealth समृद्धता के बारे में बात करूँगा और सभी चीजों को समृद्धता से संबंधित करूँगा।

समृद्धता केंद्र है।


समृद्धता चार्ट -


लक्ष्य, पैसा, सामाजिक उद्देश्य,स्वास्थ्य ,

खुशी, सामंजस्यपूर्ण संबंध, सामंजस्यपूर्ण जीवन, आध्यात्मिक ज्ञान

- A -परिणाम


= wealth समृद्धता =


1. विश्वास 2. ब्रह्मचर्य प्रबंधन 3. कल्पना करना 4. समय प्रबंधन 5. कर्म act

- B- अभ्यास


A - वे चीजें / परिणाम हैं, जो आप जीवन में चाहते हैं।

और अपनी चीजों / परिणामों के लिए ,आप जो अभ्यास का पालन कर रहे हैं , वे हैं - B


यह सब समृद्धता है

यानी परिणाम (A) और अभ्यास (B), समृद्धता है।


ये परिणाम (A) और अभ्यास (B) पूरे जीवन के लिए हैं।


हम युवा आयु से लेकर 80+ तक ,

इन परिणामों और अभ्यास का पालन करते हैं ।


यदि आप ध्यान से देखें, तो आप अपने दैनिक जीवन में होशपूर्वक या अनजाने में इन परिणामों और अभ्यास का पालन कर रहे हैं।


अगर हम अपने जीवन में इन परिणामों और अभ्यास का अच्छी तरह से पालन करते हैं तो समृद्ध हो जाते हैं।


जीवन के आखिर तक समृद्धता का पालन करते रहें।

अंत में ,जाने कि आप wealth समृद्धता का पालन कर रहे हैं।


अगर आप मुझसे पूछेंगे कि मैं क्या पालन कर रहा हूं।मैं जवाब दूंगा -

मैं wealth समृद्धता का पालन कर रहा हूं


दोनों हाथ जोड़कर झुककर नमन प्रणाम करते हुए शुरू करते हैं

और wealthy समृद्ध होते हैं।

May 25, 2021, 2:34 a.m. 0 Report Embed Follow story
0
Read next chapter बाल आयु (0-14 वर्ष)

Comment something

Post!
No comments yet. Be the first to say something!
~

Are you enjoying the reading?

Hey! There are still 7 chapters left on this story.
To continue reading, please sign up or log in. For free!

Related stories